सेंसेक्स 40122 तक पहुंचने के बाद 748 अंक फिसला, 39374 का निचला स्तर छुआ

मुंबई. शेयर बाजार पूरी बढ़त गंवाकर नुकसान में आ गया है। सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 748 और निफ्टी 210 अंक नीचे आ गया। हालांकि, निचले स्तरों से रिकवरी हो गई। फिलहाल सेंसेक्स में 100 से ज्यादा और निफ्टी में 30 अंक की गिरावट देखी जा रही है। इससे पहले सेंसेक्स 288 अंक की तेजी के साथ 40,119.81 पर पहुंच गया। निफ्टी ने 88 प्वाइंट के उछाल के साथ 12,033.45 का स्तर छू लिया। 23 मई के बाद पहली बार इंडेक्स इन स्तरों पर पहुंचे लेकिन ऊपरी स्तरों से मुनाफावसूली हावी हो गई।

यस बैंक, वेदांता के शेयरों में 2-2 फीसदी गिरावट
कारोबार के दौरान सेंसेक्स के 30 में से 21 और निफ्टी के 50 में से 32 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। यस बैंक और वेदांता के शेयरों में 2-2 फीसदी से ज्यादा गिरावट आई। एनटीपीसी और टाटा मोटर्स 1.5-1.5 फीसदी लुढ़क गए। दूसरी ओर एक्सिस बैंक और एसबीआई के शेयरों में 1-1 फीसदी बढ़त दर्ज की गई। टीसीएस और एचसीएल टेक में 1.5-1.5 फीसदी उछाल आया। एशियन पेंट्स के शेयर में 3% और कोल इंडिया में 2.5% उछाल आया। लार्सन एंड टूब्रो और इंडसइंड बैंक के शेयरों में 1-1 फीसदी बढ़त दर्ज की गई।

जेट एयरवेज का शेयर 2.5% लुढ़का
बीएसई पर शेयर 146 रुपए पर आ गया। एयरलाइन ने गुरुवार को बताया कि वह मार्च तिमाही के वित्तीय नतीजों को मंजूरी देने की स्थिति में नहीं है। क्योंकि, एयरलाइन की हिस्सेदारी बेचने के लिए कर्जदाताओं की ओर से बोली की प्रक्रिया जारी है और एयरलाइन के कई बोर्ड मेंबर इस्तीफा दे चुके हैं। दूसरी ओर बीते 12 महीने में जेट का शेयर 65% गिर चुका है। इमरजेंसी फंडिंग नहीं मिलने की वजह से 17 अप्रैल से जेट एयरवेज का संचालन बंद है।

तेल कंपनियों के शेयरों में 4% तक तेजी
बीएसई पर बीपीसीएल और आईओसी के शेयरों में 3-3 फीसदी उछाल आया। हिंदुस्तान पेट्रोलियम में 4% बढ़त दर्ज की गई। कच्चे तेल की कीमतों में लगातार तीसरे दिन कमी आने से तेल कंपनियों के शेयरों को फायदा हुआ है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का रेट शुक्रवार को 1.3% गिरकर 66 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया