कर्नाटक: कांग्रेस ने ऐसे पलट दी बाजी,जीत का जश्न मनाने में जुटी थी BJP

कर्नाटक विधानसभा चुनाव नतीजों में किसी भी एक पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है. बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी जरूर बनकर उभरी है, लेकिन जादुई आंकड़े से करीब सात सीट दूर दिख रही है. फिलहाल कांग्रेस को 77 और जेडीएस को 38 सीटें मिलती हुई नजर आ रही हैं.

जेडीएस से बात करने के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती को भी इस काम में लगाया गया है. मायावती ने कर्नाटक में जेडीएस के साथ मिलकर चुनाव लड़ी हैं और उनकी पार्टी के एक विधायक ने जीत भी दर्ज की है. ऐसे में मायावती ने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा और कुमारस्वामी के साथ बातचीत करके उनको कांग्रेस के साथ सरकार बनाने के लिए राजी कर लिया है. इतना ही नहीं, उन्होंने जेडीएस को किसी भी कीमत में बीजेपी के साथ न जाने की भी सलाह दी है.

जेडीएस के राजी होने के बाद कांग्रेस के मुख्यमंत्री रहे सिद्धारमैया और मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी देवगौड़ा से बात करके सरकार बनाने का फॉर्मूले तय किया. कांग्रेस और जेडीएस के बीच तय हुआ है कि कुमारस्वामी मुख्यमंत्री होंगे और कांग्रेस के कोटे में डिप्टी सीएम का पद मिलेगा. इसके लिए जी परमेश्ररा के नाम को भी बकायदा सुझाया गया हैं. इसके अलावा इस गठबंधन में 34 मंत्री होंगे, जिसमें से कांग्रेस के कोटे से 20 और जेडीएस के कोटे से 14 मंत्री होंगे.

कांग्रेस के प्रस्ताव पर जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने मुहर लगा दी है और अब राज्यपाल को सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *